इतिहास

1362996811_large

कबीरधाम जिले के खुले में शौच से मुक्त प्रथम ग्राम का दर्जा प्राप्त करने वाले ग्राम रणवीरपुर की विकास यात्रा स्वतंत्रता प्राप्ति के पूर्व से प्रारंभ होती है। खैरागढ़ रियासत के आधीन रहे इस गांव को पहले चारभांठा के नाम से जाना जाता था। जनसंख्या की दृष्टि से तहसील का चौथा बड़ा गांव एवं क्षेत्रफल की दृष्टि से तहसील का दूसरा बड़ा गांव है। लगभग 50 गांव का व्यापारिक केन्द्र रणवीरपुर में रायपुर, दुर्ग एवं राजनांदगांव से सीधी बस सेवा उपलब्ध है। वर्तमान में ग्राम पंचायत के युवा सरपंच जन सहयोग से रणवीरपुर को स्मार्ट पंचायत बनाने की दिशा में प्रयासरत है।

            विकास गाथा- माननीय मुख्यमंत्री के गृह जिले का ग्राम होने के कारण उनका विशेष प्रेम इस ग्राम से रहा है। वर्तमान में क्षेत्र के बेहद लोकप्रिय युवा सांसद श्री अभिषेक सिंह जी के प्रयासो से ग्राम पंचायत को मिनि स्टेडियम समरस्ता भवन, नर्सरी एवं नया स्कूल भवन, नाली निर्माण के लिए सहयोग प्राप्त हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *